सेवा
Trending

जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने ‘जन्मदिन’पर लोहिया इंस्टीट्यूट में की निशक्त तीमारदारों की भोजन सेवा

पूर्व सांसद धनंजय सिंह के जन्मदिन पर विजयश्री फाउंडेशन के संस्थापक विशाल सिंह ने पूरे संगठन की ओर से शुभकामनाएं दी

लखनऊ। जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के राष्ट्रीय महासचिव व जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह, दो बार के विधायक धनंजय सिंह ने आज अपने जन्मदिन पर विजय श्री फाउन्डेशन प्रसादम सेवा में कार्यकर्ताओं के संग लोहिया इंस्टीट्यूट लखनऊ में कैंसर व असाध्य रोगों से पीड़ित नि:शक्त तीमारदारों की भोजन सेवा कर सेवा दिवस के रूप में मनाया।


जिंदगी जीने के कई पहलू होते है और हर इंसान अपने तरीके से अपनी जिंदगी को जीता है, कुछ इंसान अपने घर परिवार व अपनी जेब को ध्यान में रखते हुए जिंदगी काट देते है तो कुछ इंसान अपनी जिंदगी के अहम पल गरीबों असहायों व जरुतमंदों से साजा कर उनके हर सुख-दुख में सरीख होकर अपनी जिंदगी को जीते है। आज हम बात करेंगे एक ऐसे इंसान की जो गरीबों की आह को सुन दौड़े चले जाते है। जिनका नाम जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के राष्ट्रीय महासचिव व जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह है ।

आप को बता दे कि उनकी पत्नी श्रीमती श्रीकला धनंजय सिंह इस समय जिला पंचायत अध्यक्ष हैं। इनके पिता राजदेव सिंह भी रारी विधान सभा सीट से विधायक रह चुके हैं। वहीं, जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह जी इस समय जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के राष्ट्रीय महासचिव है I


जौनपुर जिले के बनसफा में सामान्य परिवार में जन्मे धनंजय सिंह ने 1995 में लखनऊ विश्वविद्यालय से स्नातक और 2008 में वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर से परास्नातक की डिग्री हासिल की है। लखनऊ विश्वविद्यालय में मंडल कमीशन का विरोध कर धनंजय ने अपनी छात्र राजनीति को धार दी।


राजनीति के शिखर पर पहुंचने के बावजूद उनके व्‍यवहार में कभी कोई बदलाव नहीं देखा गया। वह एक अभिभावक की तरह पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच सहजता से उपलब्‍ध रहते है । किसी भी कार्यकर्ता को उनसे मुलाकात करने में किसी तरह की दिक्‍कत का सामना नहीं करना पड़ा है । अपने समर्थकों के सुख-दुख में वह बराबर शरीक होते रहते है । यही वजह है कि हर कोई उन्‍हें जौनपुर से दो बार विधायक और एक बार सांसद बनाकर अपना आशीर्वाद दिया बनाया रखा है।


जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह आज भी गरीबों के दुखों को अपना समझते है और उनकी हर सम्भव मदद भी करते है। भाजपा नेता ने बताया जब कोई भी फरियादी अपनी समस्या को लेकर आता उसकी समस्या उसी समय हल करने की कोशिश रहती है, बड़ी उम्मीद के साथ लोग अपने बात लेकर आते है, और जब उनकी समस्या हर हो जाती है और वो मुस्करा देते तो हमें भी ख़ुशी मिलती है I धनंजय सिंह लोगों से यह भी कह देते है कि हमारे लायक कोई भी काम हो तो निसंकोच हमे बताएं हम हर सम्भव अपकी मदद करेंगे।

जन्मदिन के अवसर पर पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने इस तरह अपने हाथो से जरुरतमंदो की भोजन सेवा करके सेवा परमो धर्मः विचार को बल प्रदान किया। आज आपने इस पुनीत कार्य में अपना सहयोग प्रदान कर जरूरतमंदों को भोजन प्रदान कर उनकी पीड़ा को कम करने का सार्थक प्रयास किया। इसके चलते आज बहुत से लोगों ने भोजन प्रसाद ग्रहण किया।


पूर्व सांसद धनंजय सिंह आज भी वह छोटे से छोटे कार्यकर्ता की पहुंच में रहते है । हमेशा लोगों की समस्‍याओं का समाधान करते रहते है । उनकी यही विशेषता कार्यकर्ताओं के दिल में घर बना लिया है जिसके चलते लोग खूब प्यार और सम्मान दे रहे है । आज उनके जन्मदिन पर इस नेक कार्य से प्रसन्न है I

विजय श्री फाउन्डेशन प्रसादम सेवा के संस्थापक फ़ूडमैन विशाल सिंह ने जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के राष्ट्रीय महासचिव व जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह को जन्मदिन की बधाई देते हुए कहा कि समाज और संसार में दया ही श्रेष्ठ धर्म है। अपने से दीन-हीन, असहाय, अभावग्रस्त, आश्रित, वृद्ध, विकलांग, जरूरतमंद व्यक्ति पर दया दिखाते हुए उसकी इसके सेवा और सहायता करने से ही समाज उन्नति करेगा।

उन्होंने आगे बताया कि लखनऊ के 3 अस्पताल-मेडिकल कॉलेज लखनऊ, बलरामपुर अस्पताल, लोहिया संस्थान लखनऊ में दोपहर के समय लगभग 1000 निःशक्त तीमारदारों को निःशुल्क भोजन सेवा समाज से सार्थक ऊर्जावान सेवादार साथियों के माध्यम से ही संभव हो पा रहा है।

फ़ूडमैन विशाल सिंह ने जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के राष्ट्रीय महासचिव व जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह के जन्मदिन पर किये गए इस पुण्य कार्य के लिए उनका आभार जताया और पूरे संगठन की तरफ से जन्मदिन की बधाई दी। उन्होंने कहा कि नर सेवा नारायण सेवा का यह पुनीत मिशन बिना आप साथियों के सहयोग के बिना संभव नहीं है। अत:आप भी इस पुनीत कार्य में बढ़चकर सहभागी बने।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button